Chinese Loan Apps Scam: कैसे चीनी Instant Loan Apps बन रही है भारतीयों के लिए suicide का कारण?

Chinese Loan Apps Scam: नमस्कार दोस्तों जैसे कि हमें पता है कि abhishek makwana जोकि तारक मेहता का उल्टा चश्मा में एक writer थे। उन्होने 27 नवम्बर 2021 को सुसाइड कर लिया था।

enquiry में पता चला था कि उन्होने एक instant loan app से एक लोन लिया। जिसे वो चूका नहीं पा रहे थे। जिसके बाद ये app वाले इन्हे लगातार धमकी दे रहे थे और उनके रेश्तेदारो के सामने भी उनको इसके लिए परेशान कर रहे थे।

इन सब से परेशान हो कर उन्होने सुसाइड कर लिया।

ये केवल एकलौता मामला नहीं था बल्कि इस तरह की instant loan से सम्बंधित परेशानियों के सैकड़ो मामले सामने आए।

कोरोना महामारी का प्रभाव

Covid महामारी के समय micro लेंडिंग बैंको का bad loans बढ़ने लगा। बंधन बैंक जोकि एक micro lending bank है उसका bad loan covid के first wave में 2 था जोकि दूसरे वेव में 8 के share तक पहुँच गया।

इस कारण से इन्होने लोन देना कम कर दिया। जिसके बाद बहुत से लोगो को मज़बूरी में instant loan app का सहारा मिला।

इन instant apps ने मौके का खूब फायदा उठाया और लोगो को high interest रेट पर लोगो को लोन दिया। इन apps से लोन लेना बहुत ही आसान था।

ये Instant Loan Apps काम कैसे करते है ?

loan लेने के लिए आपके पास केवल आधार कार्ड ,पेन कार्ड और बैंक statment होना चाहिए और आप बिना बैंक गए आसानी से लोन ले सकते है।

लोन लेते टाइम ये apps लोगो से उनके contacts ,फोटोस ,calender ,location और बैटरी percentage का भी access मांग रहे थे जोकि जरूरी नहीं होता।

जब लोग इनके लोन नहीं चूका पाते थे तो ये इनकी पर्सनल फोटोज और कांटेक्ट लीक करने की धमकी देते थे।

दिसंबर 2020 में ऐसा ही केस हैदराबाद के रहने वाले सुनील के साथ हुआ। उन्होने अपने और अपनी वाइफ के फ़ोन से apps से लोन लिया। और वो लोन नहीं चूका पाए तो app वाले इन्हे धमकाना शुरू कर दिया।

app वालो ने उनकी वाइफ के contacts निकाले और एक whatsapp ग्रुप बनाया और उनके दोस्तों और रिस्तेदारो को उसमे add कर दिया और उस ग्रुप में उनकी वाइफ की फोटो डाल कर धमकाना भी शुरू कर दिया।

ये सब देख कर सुनील को लगने लगा कि उसकी वाइफ उसके वजह से इन सब में फंसी और उसने suicide कर लिया।

Instant Loan Apps का Chinese Connection

Enquiry में ये भी पता चला है कि इन apps में chinese invester का पैसा लगा हुआ है। इस तरह से पैसे लगा कर ये invester चीन और अफ्रीका में पहले ही पैसा बना चुके थे और वे इसे इंडिया में भी कर के जल्दी से पैसा कमाना चाहते थे।

इसके लिए उन्होने NBFC को चुना और कुछ लोग hire करे ताकि लोगो को लोन दिया जा सके और लोगो से पैसे बसूल भी किया जा सके।

ये apps लोगो को mainly शार्ट टाइम के लिए ही लोन देती थी जिसका पीरियड 7-14 days का होता था। अलग अलग apps कई छोटे बड़े लोन देते थे जिसकी राशि 500 से 20 लाख तक vary करती थी।

इस पर ये लोन ऐप्प्स 10 से लेकर 40 प्रतिशत तक सालाना व्याज चार्ज करती थी। कुछ app तो 200 प्रतिशत तक व्याज लेती थी।

The moring context ने एक person का इंटरव्यू लिया है जिसमे उसने 30 दिन के लिए एक app से 3000 का लोन लिया था लेकिन जब वो उसे टाइम से चूका नहीं पाया तो उसे पेनल्टी के तौर पर 13000 रुपए चुकाने पड़े।

कई बार तो ये app आपको टाइम से पहले ही धमकाना शुरू कर देते है।
सुनंदा नंदी बंगाल में एक प्राइवेट स्कूल में एक टीचर है उन्होने lockdown के दौरान 6000 का लोन instant loan app से लिया।

वह उस लोन को चूका नहीं पाई तो app वालो ने उन्हें धमकाना शुरू कर दिया। एक दिन जब उनकी सास घर पर अकेली थी तो app की तरफ से एक गुंडा आया और उसकी सास से बदतमीज़ी करने लगा।

और वो जभी गया जब उसकी सास ने उसे 5000 और कुछ जेवर उसे दिए।

Govt. ने क्या कदम उठाए है ?

RBI और भारत सरकार ने लोगो को इन apps से बचाने के लिए कई कदम भी उठाए है और कई apps को ban भी किया है।

RBI ने ये निर्देश भी जारी किया है कि इन instant लोन apps अपने NBFC और बैंकिंग पार्टनर की details भी देनी पड़ेगी।

RBI ने सचेत पोर्टल नाम से एक वेबसाइट जारी किया है जहा पर आप संदेहजनक app की शिकायत भी कर सकते है।

Solution क्या हो सकते है?

इसके साथ गूगल को भी ऐसे अप्प्स के खिलाफ सख्त कदम उठाना चाहिए क्योकि लोग गूगल के प्ले स्टोर पर भरोसा करते है कि प्लेस्टोर पर उन्हें जेनुअन अप्प ही मिलेंगे।

मुसीबत सब पर आती है लेकिन लोगो को अपनी assessment की छमता को बढ़ाना पड़ेगा ताकि लोग ऐसे फ्रॉड app के चुंगल में न फंसे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.